दूर वाली भाभी और उनकी फ्रेंड की चुदाई

loading...

नमस्कार दोस्तों आज मैं आपको जो चुदाई की कहानी बताने जा रहा हूं वह मेरी भाभी और बहन की चुदाई कहानी है कैसे मैंने अपने भाभी और उनके बहन की चुदाई की यह आपको मैं अपने विस्तार से बताता हूं। तो चलिए मैं स्टोरी चालू करता हूं मेरी और उसे भाभी की बात ये फोन करो ना लगे क्योंकि मैं थोड़ा बिजी था इसलिए मुझे चंडीगढ़ जाने का टाइम नहीं मिलता लेकिन मैं निशा भाभी से बात करता रहता 1 दिन की बात है जब मैंने चंडीगढ़ जाने का प्लान बनाया और मैं आपको बता निशा भाभी की पूजा और निशा भाभी और मेरे बीच जो भी बात होती है वह निशा भाभी पूजा को बता देती है इस कारण से पूजा भी थोड़ी मेरे में इंटरेस्ट होने लगी और पूजा ने कहा कि मुझे भी उसके साथ सेक्स करना है यानी कि मैं.

फिर 1 दिन में चले कर दिया और निशा भाभी के घर पर पहुंचते ही मैंने बेल बजाई और निशा भाभी नाइट सूट मैं दरवाजा खुला इतनी सेक्सी लग रही थी कि मैं मैं देखता ही रह गया फिर मैं अंदर गया और नाश्ता पानी किया निशा भाभी ने जो सूट पहना हुआ था उसमें उनके बूब्ज़ बहुत अच्छी तरह से ले गए थे मैं उनको ही देख रहा था फिर मैंने खाना खाया और उसके बाद किचन में गया तो वह कुछ काम कर रही थी लेकिन मैं उनको पीछे से जाकर पकड़ लिया गौतम जी बूप्स को दबाने लगा मेरा लंड उनकी गांड में घुसा जा रहा था और मैं भी मजा आ रहा था तभी वह नीचे जुकी और मेरा लंड मुंह में ले लिया और चूसने लगी फिर मैंने अपने कपड़े उतारे और उसको भी कहा कपड़े उतारो जैसे उसने अपने कपड़े उतारे मैं उसको देखता ही रह गया वह उसके बूब्स और गांड क्या बात है मेरा लंड तो और भी टाइट हो गया उसकी चूत की तो बात ही नहीं कितने सेक्सी लग रही थी.

फिर मैंने अपना लंड उसकी चूत को रखा और एक झटके चूत में डाल दिया उसकी चूत गीली हो गई थी इसलिए मैंने 15 मिनट तक उस को चोदा फिर उसके सिसकियां निकल रही थी मैं भी मजे ले रहा था फिर मैंने सारा पानी है उसकी चूत में निकाल दिया. तभी डोर का बैल बाजा और निशा भाभी मुझसे अलग होकर दरवाजा खोलने के लिए दो दरवाजे पर पूजा खड़ी थी मुझे तो लग गया था कि आज मैं तो दो रंडी को एक साथ चोदा वाला हु।

पूजा साथ में अपनी छोटी बच्ची को लेकर आई थी लेकिन जैसे ही भाभी ने दरवाजा खोला पूजा ने अपनी लड़की को भाभी को दे दिया और सीधे बेडरूम की तरफ आ गई और मैं बेडरूम में नंगा सो रहा था मैंने पूजा को दिखा दो एकदम सन्न रह गया क्योंकि पूजा के बूब्स निशा भाभी से भी बड़े थे तब तक निशा भाभी कमरे में आ गए और मुझसे कहने लगी कि संजय तूने अभी तक कपड़े नहीं पहने और दोनों हंसने लगी।

और फिर पूजा बोली किए जा तू चुद चुकी है या बाकी है तो निशा बोली कहां यार अभी तक तो काम चालू था लेकिन तुमने घंटी बजा दी एक बोली कोई बात नहीं हम दोनों एक साथ चुदाई करवाते हैं और इसको भी थोड़ा मजा देता है मेरे मन में जाना कितने अरमान जागे मन ही मन में लड्डू फूट रहे थे कि मैं आज दो औरतों को एक साथ में चोद दूंगा जैसा कि मैं बीपी में देखता था की एक आदमी दो औरतों को एक साथ चोदता है वैसे ही कुछ मेरे साथी होने वाला था

आज तो मैंने पूजा को कहा की कोई बात नहीं आज तुम दोनों को एक साथ इंग्लिश स्टाइल में चोदुंगा और वह दोनों ने कहा कि चलो देखते हैं तुम्हारे लोड़े में कितना दम है देखते हैं आज आने वाले किसका निकलता है तुम्हारा या हमारा लेकिन उनको नहीं मालूम था कि मैं वियाग्रा लेकर आया हूं मेरा लंड अभी तक फुल कड़क था तो निशाना पूजा की लड़की को ड्राइंग रूप में खेलने के लिए भेज दिया और वह टीवी चालू करके कार्टून चालू कर दिया फिर निशा और पूजा दोनों मानव कितने दिन की सेक्स की भूखी हो वैसे मेरे ऊपर आ गिरी एक लेफ्ट तो एक राइट पूजा ने मेरे लंड को पकड़ा और पूरा लंड उसने अपने मुंह में डाल दिया लेकिन मैं लंच थोड़ा बड़ा था

इसलिए उसके मुंह में पूरा जाने से उसको बड़ा उल्टी समय शुरू हो गया और बोली कि मादरचोद कि तेरा तो बहुत बड़ा है आज तो चोदने का मजा ही कुछ और आएगा और निशा ने अपनी चूत को मेरे मुंह पर रख दीया और मेरे मुंह पर रगड़ने लगी मैं भी चुत को चाटने लगा थोड़ी देर ऐसा ही चलता रहा फिर बाद में पूजा ने अपने सारे कपड़े खोल दिए आप मानो कि नहीं दोस्तों पूजा और निशा दोनों मेरे सामने पूरी नंगी पड़ी थी फिर मैंने पूजा को बेड पर सुलाया और उसके ऊपर निशा को सुलाया और फिर मैंने अपना लंड को पहले पूजा की चूत में जोर से डाला पूजा की चूत इतनी मोटी नहीं थी

जिसकी वजह से पूजा को थोड़ा दर्द हुआ और वह चिल्लाई जब मैं पूजा को चोद रहा था तो निशा के बूब्स दोबारा था और निशा भी इसमें मेरा साथ दे रही थी फिर मैंने अपना लंड निकाल कर थोड़ा सा ऊपर निशा की चूत में डाल दिया 5 मिनट्स निशा को चोदने के बाद मैंने अपना लंड निशा की गांड में डाल दिया और यह निशा को मैंने बिना बताए किया जिसकी वजह से निशा जोर से चिल्लाई और बोली मादरचोद मेरी चूत नहीं गांड है यह तो मार रहा है इसको तो मैंने कहा कि मेरी जानेमन मुझे आज गांड मारने का शौक हो रहा है और मैं उसकी गांड मारता रहा कौन सा चला रही थी लेकिन पूजा को हंसी आ रही थी

और बोल रही थी कि निशा आज तो तेरी गांड फट गई तो निशा बोली कि अब तेरा नंबर है टेंशन ना ले और ऐसा मेरे को बोली कि मेरे नीचे गांड और है उसे उसको मार मैंने फटाक से अपना लंड निकाला तो पूजा ने मना कर दिया लेकिन मैं कहां मानने वाला था मैंने जल्दी से पूजा की गांड अपना लंड सेट किया और जोर के झटके में सीधा कांड के अंदर डाल दिया पूरा लंड लेकिन पूजा ने कभी अपनी गांड नहीं बनवाई थी इसलिए वह बहुत रोए लेकिन निशाने उसको नजर नहीं दिया क्योंकि नहीं था उसके ऊपर सोई थी फिर निशा हंसी बोली मादरचोद तेरे को मजा आया जब मेरी बारी अब मैं तेरी गांड मरवाती हूं इतना कहने के बाद निशा ने कहा कि अब तो उसे छोड़ना मत उसकी गांड मार बरोबर और मैं पूजा की गांड को जोर जोर के झटके मारता रहा

जिसकी वजह से पूजा की गांड से खून निकलने लगा और पूजा की आंखों से आंसू निकल रहे थे बाद में मैंने अपना लंड बाहर निकाला तो पूजा निशा को एक झटके से तथा मारा और निशा को पलंग से नीचे पटक दिया और बोला रंडी कहीं की मेरी आंख फाड़ फाड़ दी तूने और मेरे को बोली रंग दे अब चोद मेरी चूत को मादरचोद मेरी चूत बहुत प्यासी है पहले मेरी प्यास बुझा तो मैंने निशा की चूत में लंड डाला और 15 मिनट तक फुल स्पीड में चोदता रहा इसकी वजह से निशा की गांड का दर्द तो कम हो गया लेकिन चूत का बढ़ गया उसकी चूत पूरी लाल हो चुकी थी और थोड़ी सूजन भी आ गई थी लेकिन उसको चोदता ही रहा क्योंकि मैंने वियाग्रा ली हुई थी फिर मैं सा गुस्से में आए और का मेरे को पूजा के ऊपर से खींच लिया और बोला कि घर मेरा है पहले मेरे को चोदा तो मैंने निशा को चोदता चालू किया 15 से 20 मिनट को भी चोदा और उसकी चूत का पानी निकाला और उसका चूत भी लाल कर दिया वह सिसकिया ले रही थी फिर पूजा ने पूछा कि तुम इतनी देर कैसे चोद सकते हो तो

मैंने फिर उनको बताया कि मैं अभी तक तुम लोगों को 2 घंटे तक और चोद सकता हूं क्योंकि मैं आज वियाग्रा लेकर आया हूं तो वह दोनों खुश हो गई और बोली तो चलो चालू हो जा फिर मैंने उनको करें एक 1 घंटे दोनों को और चोदा और बहुत मजे किए दोस्तों और फिर अगले दिन भी मैंने उन दोनों को सुबह 5:00 बजे चोदना चालू किया और फिर 7:00 बजे मेरी ट्रेन थी इसलिए मुझे जल्दी से निकलना पड़ा और मैं अपने घर वापस आ गया तो दोस्तों यह थी मेरी कहानी अगर आपको अच्छी लगी हो तो प्लीज शेयर जरूर करें और यह कहानी का पूरा कॉपीराइट Adultkahani.com को जाता है यह कहानी एडल्ट कहानी द्वारा लिखी गई है कोई भी इस कहानी को कॉपी करने की कोशिश ना करें थैंक यू