कॉलेज में तरुणा की चुदाई मेरे लंड से

loading...

नमस्कार दोस्तों मेरा नाम अजय है और मैं आपको जो कहानी सुनाने जा रहा हूं वह मेरे कॉलेज की लड़की है दोस्तों मैं आपको स्टार्टिंग से बताता हूं जब मैं 10 क्लास पास करके कॉलेज में गया था कॉलेज का माहौल कुछ ज्यादा पसंद नहीं आया क्योंकि कॉलेज में लड़कियों के भाव सातवें आसमान पर थे और मेरे स्कूल में बहुत गर्लफ्रेंड थी हालांकि दोस्तों में उनमें से किसी को भी चोट नहीं पाया लेकिन मैं कॉलेज यही सोच कर आया हूं कि यहां पर किसी ने किसी की चूत तो मैं फाङ दूंगा।

अपने अपने काम पर लग गया कि से गिरी लड़की को पटाया जाए और एक दिन मुझे एक लड़की मिली झूठ बोल क्लास में मेरे स्कूल में पढ़ती थी मैंने उससे बात की और उसको बोला कि हां मेरे कोई दोस्त नहीं है क्या क्या तुम किसी से मेरा इंट्रो करा दोगी तो वो राजी हो गई और अपने सहेलियों को अपने पास बुला दिया और मेरा भी इंट्रो करवा दिया सबसे उन सब में से मुझे तरुणा मस्त लग चुकी है उसकी हाइट भी मस्ती और उसका भी गिरवी शानदार था मेरा तो उसे बात करते-करते ही लंड खड़ा हो गया था मैं अपने आप को काबू में नहीं रख पा रहा था मैंने उसे मोबाइल से नंबर मांगा तो उसने बिना देर करते हुए मोबाइल नंबर दे दिया।

अपने दिल्ली तरुणा से कर व्हाट्सएप फेसबुक पर चैट करता रहता था और मैं उसे कभी-कभी डबल मीनिंग मैसेज भी करता था और मैंने धीरे धीरे बातों ही बातों में अपने प्यार का इजहार कर दिया और तरुणा ने मेरा लव प्रपोजल एक्सेप्ट कर दिया अब मेरा सारा काम यह था कि कैसे मैं तरुणा को चोदु और उसकी सील पैक चूत को और अपने लंड से फाङु। लेकिन कॉलेज में बारिश की वजह से काफी कम स्टूडेंट आए थे पर तरुणा आई थी मैंने उसको क्लास में बुला लिया और क्लास में कोई नहीं था जब वह आई तो मस्त लग रही थी क्योंकि वह थोड़ी भीगी हुई थी और आपको तो पता ही है कि भीगी लड़की की सेक्सी लगती है मैंने उसे पास बुलाया और उसको अपने पास बिठाया फिर मैंने अपना रुमाल निकाला और उसका चेहरा साफ किया फिर उसके बालों में हाथ फिराया फिर मैंने उसको थोड़ा बूब्स पर हाथ घुमाते हुए एक दो बार बूब्स को प्रेस किया लेकिन उसने कुछ नहीं कहा जिस्म जैसे मेरा हौसला और बढ़ गया।

फिर मैंने तरुणा बूब्स पर अपना हाथ रखा और उसके संतरे जैसी बूब्स को दबाने लगा तरुणा के मुंह से सिसकियां निकल रही थी और मुझे ले रही थी मैंने धीरे धीरे अपने एक हाथ को उसके सलवार में घुसा दिया और उसकी चूत मैं उंगली डाल ने लगा अब वह मस्त मगन हो गई थी और फिर मैंने जल्दी से अपना लंड डालने का और उसके हाथों में दे दिया शुरू में उसने अपना हाथ मेरे लंड को नहीं लगा लेकिन धीरे-धीरे वह मेरे लंड को आगे पीछे करने लगे मेरी तो हालत ही खराब हो गई थी जैसे उसके हाथों में कोई जादू हो जल्दी से करुणा को टेबल पर बैठा दिया और उसकी सलवार खोल दिया और चड्डी घुटनों तक ला दिया और फिर उसकी दोनों टांगों तो मैंने उठा दिया और उसकी चूत मेरे सामने थी

मैंने जिसे कंडोम निकाला और अपने लंड पर पहना दिया और तोरणा की चूत में लंड डाल दिया तरुणा मेरी तरफ देख रही थी क्योंकि तरुणा की चूत पर पहले * किसी का लंड जिगर बड़ा था मैंने एक जोर का झटका दिया और फट की आवाज के साथ चूत के अंदर चला गया तरुणा चल जाए क्योंकि उसकी चूत थोड़ी छोटी थी और मुझे दर्द हो रहा था फिर मैंने उसको 15 से 20 मिनट चोदा तब तक कोई क्लास में नहीं आया था हम दोनों ने बहुत मजे लिए और मैं तरुणा की चूत को चाटते चाटते मजे ले रहा था और फिर हम दोनों ने कपड़े पहने और बारिश अभी तक बंद नहीं हुई थी इसलिए हमने एक दो बार चुदाई और कर ली फिर हम लोग घर पर चले गए दोस्तों यह थी मेरी कहानी अगर पसंद आए तो प्लीज शेयर कर दीजिएगा धन्यवाद या कहानियां एडल्ट कहानी डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं